मैं क्या करूँ राम, मुझे अखिलेश मिल गया।

Akhilesh-Yadav-Ramnavi-tweet-on-Navratri-Navmi

कल नवमी थी, नवरात्री वाली महानवमी।

पर कुछ लोग इसे भगवान् श्रीरामजी के अवतरण दिवस वाली नवमी समझ बैठे।

सोचा, राज्य में चुनाव आ रहा है तो क्यों न बहती गंगा में हाथ साफ़ कर लिए जाए।

तो दे दी जनता को बधाई, लगे हाथों।

पर लिखना क्या था, यह तो जनाब भूल ही गए।

जो राजनेता परंपरा से जुड़े नहीं रहते उनका हश्र उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव जैसा ही होता है

फेवरेट हिंदू

सोचा होगा की जो होगा देखा जायेगा। कुछ गलती हो भी जाएगी तो दो चार दिन हो हल्ला मचने के बाद जनता खुद ही भूल जाएगी, जो की सही भी है।

See also  खुशखबरी: स्वामी नरेशानंदजी जल्द ही हॉस्पिटल से डिस्चार्ज होंगे

फिर क्या था, दे दी बधाई। लो जी, नीचे खुद ही देख लो। मगर पिक्चर में, क्योंकि ट्वीट को डिलीट हो गया है न। करना पड़ा साहब को, मजबूरी जो थी।

Akhilesh Yadav Ramnavi tweet on Navratri Navmi

अब इस ट्वीट को देखकर समझदार सपाई भी गा रहा होगा –

मैं क्या करूँ राम, मुझे अखिलेश मिल गया।

हालांकि बाद में अखिलेश बाबू ने अपनी गलती सुधार ली। पर मजे लेने वाले कहाँ मानने वाले थे।

केवल अखिलेश बबुआ ही नहीं बल्कि कांग्रेस के नेता “आनंद शर्मा” भी फिसल गए थे। नीचे देखिये उनके भी ट्वीट का स्क्रीनशॉट, क्योंकि गलती तो मिटानी पड़ती ही है ना।

Congress Leader Anand Sharma Ramnavmi Tweet on Navratri Navmi

क्या करें, नेता लोग है साहब। झेलना पड़ता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *